×

Uttrakhand: उप निरीक्षक भर्ती का जिन्न भी आया सामने, कुमाऊं सतर्कता विभाग करेगा जांच

Uttrakhand: उप निरीक्षक भर्ती का जिन्न भी आया सामने, कुमाऊं सतर्कता विभाग करेगा जांच

देहरादून, 22 सितम्बर । उत्तराखंड में नियुक्तियों हुई धांधली थमने का नाम नहीं ले रही है। विधानसभा और यूकेएसएसएससी के बाद 2015 में हुई दारोगा भर्ती में भी अनियमितता का मामला प्रकाश में आया है जिसकी जांच कुमाऊं सतर्कता विभाग को सौंपी गई है। हल्द्वानी स्थिति कुमाऊं सतर्कता मुख्यालय की टीम इस प्रकरण की जांच कर रही है। इस संदर्भ में कमाऊं सतर्कता की टीम ने शासन को पत्र भेजकर प्राथमिकी दर्ज कराने की अनुमति मांगी है।

इस संदर्भ में पुलिस अधीक्षक सतर्कता प्रह्लाद नारायण मीणा का कहना है कि शासन द्वारा उन्हें सतर्कता जांच निर्देश मिले हैं और प्रथम दृष्टया इस प्रकरण में कमियां मिली है जिसके लिए प्राथमिकी कराने के लिए शासन की अनुमति मांगी है। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद उन उप निरीक्षकों के नाम सामने आएंगे जो अवैधानिक तरीके से सेवा में आए हैं।

यहां यह उल्लेख करना आवश्यक होगा कि 2015 में 339 पदों पर उप निरीक्षक पद पर भर्ती हुई थी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर इस नियुक्ति की गड़बड़ी की जांच सतर्कता को सौंपी गई है। अब कुमाऊं सतर्कता दल ने जांच प्रारंभ कर दी है जल्द ही अनियमित रूप से भर्ती हुए दारोगाओं पर कार्रवाई होगी।

Share this story