Logo Naukrinama
दिल्ली विश्वविद्यालय : नया सत्र शुरू, छात्रों पर बरसाए फूल, मिठाई खिलाकर किया स्वागत
दिल्ली विश्वविद्यालय में बुधवार 2 नवंबर से प्रथम वर्ष के छात्रों का नया सत्र शुरू हो गया। अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के प्रथम वर्ष के छात्रों का विश्वविद्यालय परिसर में यह पहला दिन रहा। दिल्ली विश्वविद्यालय से जुड़े विभिन्न कॉलेजों ने बुधवार को प्रथम वर्ष के बी. ए. प्रोग्राम और बी. कॉम. (ऑनर्स) बी.कॉम. प्रोग्राम व बीएससी प्रोग्राम के छात्रों के लिए ओरिएंटेशन प्रोग्राम का आयोजन किया। ओरिएंटेशन से पूर्व कई कॉलेजों में वरिष्ठ छात्रों ने मिठाई खिलाकर पुष्पों से प्रथम वर्ष के छात्रों का स्वागत किया।
 
दिल्ली विश्वविद्यालय : नया सत्र शुरू, छात्रों पर बरसाए फूल, मिठाई खिलाकर किया स्वागत

नई दिल्ली, 6 नवंबर दिल्ली विश्वविद्यालय में बुधवार 2 नवंबर से प्रथम वर्ष के छात्रों का नया सत्र शुरू हो गया। अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के प्रथम वर्ष के छात्रों का विश्वविद्यालय परिसर में यह पहला दिन रहा। दिल्ली विश्वविद्यालय से जुड़े विभिन्न कॉलेजों ने बुधवार को प्रथम वर्ष के बी. ए. प्रोग्राम और बी. कॉम. (ऑनर्स) बी.कॉम. प्रोग्राम व बीएससी प्रोग्राम के छात्रों के लिए ओरिएंटेशन प्रोग्राम का आयोजन किया। ओरिएंटेशन से पूर्व कई कॉलेजों में वरिष्ठ छात्रों ने मिठाई खिलाकर पुष्पों से प्रथम वर्ष के छात्रों का स्वागत किया।

बता दें कि दिल्ली विश्वविद्यालय के रेगुलर अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में करीब 80,000 सीटें हैं। इनमें से अधिकांश सीटों पर छात्रों के दाखिले हो चुके हैं। इस वर्ष दिल्ली विश्वविद्यालय में छात्रों का प्रवेश परीक्षा (सीयूईटी) के माध्यम से दाखिला हुआ है। नई व्यवस्था होने के कारण इस साल प्रथम वर्ष के छात्रों के एडमिशन विलंब से हो रहे हैं। ओरिएंटेशन प्रोग्राम में कॉलेजों के प्रिंसिपल ने छात्रों को कॉलेज लाइफ के महत्व और कॉलेज की विशेषता एवं उपलब्धियों से अवगत कराया। साथ ही छात्रों को उनके दायित्व व भविष्य में बेहतर लक्ष्य हासिल करने की प्रेरणा दी। दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हंसराज सुमन ने बताया कि इस दौरान छात्रों से कहा गया कि कठिन परिश्रम का कोई विकल्प नहीं है और यही मार्ग जीवन में सर्वोत्तम ऊंचाइयों तक ले जाता है। इस दौरान छात्रों को कॉलेज द्वारा किए गए विशेष कार्यो के बारे में भी जानकारी दी।

वहीं छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश लेने वाले नए छात्रों के लिए 'वेलकम फ्रेशर्स' अभियान चलाया। इसके तहत छात्रों को टीका लगाकर शुभकामनाएं देते हुए कॉलेज परिसर में उनका स्वागत किया गया।

दिल्ली विश्वविद्यालय में इस बार 'कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट' यानी सीयूईटी के माध्यम से दाखिला हुआ है जिसमें अनेक प्रकार की समस्याएं भी आई थी। इसको लेकर अभाविप हेल्पलाइन नंबर जारी कर कुछ चिन्हित स्थानों पर हेल्पडेस्क लगाकर छात्रों की सहायता की थी। अब नामांकन के पश्चात अभाविप छात्रों की सहायता के लिए 'वेलकम फ्रेशर्स' अभियान चला रहा है। इसके तहत कॉलेज परिसरों में एकत्र होकर नए छात्रों को तिलक लगा कर एवं मिठाई खिला कर उनका स्वागत किया गया।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े व दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) के अध्यक्ष अक्षित दहिया ने बताया, "हम सभी दिल्ली विश्वविधालय में प्रवेश लेने वाले नए छात्रों का विश्वविद्यालय परिसर में स्वागत करते हैं। हमने प्रवेश प्रक्रिया के दौरान भी हेल्पडेस्क लगाकर छात्रों को सहायता की थी तथा हम दाखिले के बाद भी छात्रों के स्वागत के लिए उपलब्ध होकर स्वागत कर रहे हैं जिसके लिए हमने हर कॉलेज में अपने वोलिंटियर लगाए हैं और हम आगे भी छात्र हित के लिए कैम्पस में ऐसे ही उपलब्ध रहेंगे।"

इस पूरे काम में दिल्ली के 62 कॉलेजों में एबीवीपी के कुल 3210 कार्यकर्ता लगे। जिसमें प्रत्येक कॉलेज में लगभग 50 कार्यकर्ताओं ने इस कार्य में प्रतिभाग कर अपने अनुज नवीन छात्रों का स्वागत किया। इस मौके पर कार्यकर्ताओं और नवीन छात्रों में उल्लास और उत्साह देखने को मिला।