Logo Naukrinama
शिक्षा में 'अमेरिकी कंसोर्टियम फॉर ग्लोबल एजुकेशन' करेगा सहयोग
अमेरिका की एक बड़ी व बहुराष्ट्रीय शैक्षणिक संस्था 'कंसोर्टियम फॉर ग्लोबल एजुकेशन' दिल्ली सरकार से चर्चा की है। अमेरिकी कंसोर्टियम के प्रतिनिधि हायर-एजुकेशन, टीचर एजुकेशन, स्पोर्ट्स एजुकेशन व टेक्नीकल एजुकेशन के मुद्दों पर यह चर्चा कर रहे हैं। अमेरिकी प्रतिनिधियों ने दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से मुलाकात की। दिल्ली सरकार के मुताबिक अमेरिकी विश्वविद्यालयों के कंसोर्टियम ने दिल्ली के शिक्षा मॉडल में रूचि दिखाई है, भविष्य में अमेरिकी संस्था और दिल्ली सरकार मिलकर काम करेंगे ताकि दोनों देश एक दूसरे की शिक्षा प्रणाली से सीख सकें।
 
शिक्षा में 'अमेरिकी कंसोर्टियम फॉर ग्लोबल एजुकेशन' करेगा सहयोग

नई दिल्ली, 6 नवंबर - अमेरिका की एक बड़ी व बहुराष्ट्रीय शैक्षणिक संस्था 'कंसोर्टियम फॉर ग्लोबल एजुकेशन' दिल्ली सरकार से चर्चा की है। अमेरिकी कंसोर्टियम के प्रतिनिधि हायर-एजुकेशन, टीचर एजुकेशन, स्पोर्ट्स एजुकेशन व टेक्नीकल एजुकेशन के मुद्दों पर यह चर्चा कर रहे हैं। अमेरिकी प्रतिनिधियों ने दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से मुलाकात की। दिल्ली सरकार के मुताबिक अमेरिकी विश्वविद्यालयों के कंसोर्टियम ने दिल्ली के शिक्षा मॉडल में रूचि दिखाई है, भविष्य में अमेरिकी संस्था और दिल्ली सरकार मिलकर काम करेंगे ताकि दोनों देश एक दूसरे की शिक्षा प्रणाली से सीख सकें।

बता दे कि यह अमेरिकी कंसोर्टियम अमेरिका के 43 यूनिवर्सिटीज का एक संगठन है जो दुनियाभर के 60 से अधिक देशों में काम कर रहा है। यह विभिन्न विश्वविद्यालयों के साथ नॉलेज पार्टनरशिप कर ट्रेनिंग व टेक्नोलॉजी साझा करने, विभिन्न एक्सचेंज प्रोग्राम आदि के माध्यम से दोनों देशों के विश्वविद्यालयों में एजुकेशन सिस्टम के क्वालिटी इम्प्रूवमेंट का काम करते हैं।

वहीं दिल्ली सरकार ने दिल्ली टीचर्स यूनिवर्सिटी की शुरूआत की है। इसका उद्देश्य दिल्ली और पूरे देश के लिए वल्र्ड-क्लास टीचर्स तैयार करना है। सिसोदिया ने कहा कि हम अपनी यूनिवर्सिटी के लिए विश्वभर के टीचर ट्रेनिंग मॉडल की स्टडी कर रहे हैं। साथ ही अपने स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी के माध्यम से हम खिलाडियों को वल्र्ड-क्लास ट्रेनिंग देने के लिए विश्व के सर्वश्रेष्ठ संस्थानों के साथ पार्टनरशिप करने का काम कर रहे हैं, ताकि हमारे खिलाडियों को शानदार ट्रेनिंग के साथ-साथ आधुनिक स्पोर्ट्स टेक्नोलॉजी भी मिल सकें। आने वाले समय में हम इस कंसोर्टियम के साथ इन मुद्दों पर और डिस्कशन करेंगे तथा साथ मिलकर शिक्षा के क्षेत्र में बेहतरी का काम करेंगे।

इस मौके पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली शिक्षा क्रांति के अगले चरण में हम अपने शिक्षा मॉडल को वैश्विक स्तर पर ले जा रहे हैं, क्योंकि तेजी से बदलती टेक्नोलॉजी की दुनिया में हमें अपने स्टूडेंट्स को वैश्विक दुनिया के लिए तैयार करना है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार शिक्षा के क्षेत्र में शानदार काम कर रहे देशों के साथ नॉलेज-पार्टनरशिप कर रही है और हम एक-दूसरे के मॉडल से सीखने का काम कर रहे हैं।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे खुशी है कि अमेरिकी विश्वविद्यालयों के कंसोर्टियम ने दिल्ली के शिक्षा मॉडल में रूचि दिखाई है। भविष्य में हम साथ मिलकर काम करेंगे ताकि दोनों देश एक दूसरे कि शिक्षा प्रणाली से सीख सके और ज्ञान के साथ-साथ टेक्नोलॉजी का आदान-प्रदान भी कर सकें।